Your browser does not support JavaScript!

G-12, G-14, Plot No-4 CSC, HAF Sector-10, Dwarka 110075 New Delhi IN
जे के पी लिटरेचर
G-12, G-14, Plot No-4 CSC, HAF Sector-10, Dwarka New Delhi, IN
+918588825815 https://www.jkpliterature.org.in/s/61949a48ba23e5af80a5cfdd/621dbb04d3485f1d5934ef35/logo-18-480x480.png" [email protected]
9789380661957 619c917511390338206460e8 आत्मरक्षा https://www.jkpliterature.org.in/s/61949a48ba23e5af80a5cfdd/619cfebaa6b3f44453d95aa2/aatma-raksha.jpg

साधना करते समय कौन कौन सी बाधायें आती हैं और उन बाधाओं से किस प्रकार सावधान रहकर हमें अपने आध्यात्मिक खजाने को सुरक्षित रखना है, इस पुस्तक में इस विषय पर प्रकाश डाला गया है। श्री महाराज जी द्वारा समय समय पर जो समझाया गया है उसे संक्षिप्त रूप में संकलित किया गया है। पुस्तक बार बार अध्ययन करने से अवश्य अवश्य लाभ होगा।

Atma Raksha - Hindi
in stockUSD 40
1 1
आत्मरक्षा

आत्मरक्षा

साधक अपनी आध्यात्मिक पूंजी की रक्षा कैसे करे?
भाषा - हिन्दी

$0.48
$0.72   (33%छूट)


विशेषताएं
  • अपनी साधना को ऐसे बचाओगे तो लक्ष्य अवश्य मिल जायेगा।
  • ये tecnique आपको कुसंग से 100% बचायेगी।
  • सुखी जीवन जीना चाहते हो तो आज ही पढें।
  • सावधान! कहीं आप भी ये गलती तो नहीं करते।
  • जीवन सार्थक करने की बड़ी आसान ट्रिक (trick)
SHARE PRODUCT
प्रकारविक्रेतामूल्यमात्रा

विवरण

साधना करते समय कौन कौन सी बाधायें आती हैं और उन बाधाओं से किस प्रकार सावधान रहकर हमें अपने आध्यात्मिक खजाने को सुरक्षित रखना है, इस पुस्तक में इस विषय पर प्रकाश डाला गया है। श्री महाराज जी द्वारा समय समय पर जो समझाया गया है उसे संक्षिप्त रूप में संकलित किया गया है। पुस्तक बार बार अध्ययन करने से अवश्य अवश्य लाभ होगा।

विशेष विवरण

भाषाहिन्दी
शैली / रचना-पद्धतिसिद्धांत
विषयवस्तुछोटी किताब, अभ्यास की शक्ति, हर दिन पढ़ें
फॉर्मेटपेपरबैक
वर्गीकरणसंकलन
लेखकजगद्गुरु श्री कृपालु जी महाराज
प्रकाशकराधा गोविंद समिति
पृष्ठों की संख्या40
वजन (ग्राम)55
आकार12.5 सेमी X 18 सेमी X 0.5 सेमी
आई.एस.बी.एन.9789380661957

पाठकों के रिव्यू

  0/5